Home Tags Majrooh sultanpuri ghazal

Tag: majrooh sultanpuri ghazal

Mujhe Sahal Ho Gayin Manzilein | वो हवा के रुख़ भी बदल गए –...

0
मुझे सहल हो गईं मंज़िलें वो हवा के रुख़ भी बदल गएतिरा हाथ हाथ में आ गया कि चराग़ राह में जल गएवो लजाए...

New