Kanpur UP: India v/s New Zealand: अगर इन बातों का नहीं किया पालन, तो मैच देखने के लिए ग्रीनपार्क में नहीं मिलेगी इंट्री

Advertisement


कानपुर शहर में कोविड पर नियंत्रण होने के चलते दर्शकों को काफी राहत मिली है। सिर्फ मास्क लगाकर 75 प्रतिशत दर्शकों को मैच देखने की अनुमति मिली है, जबकि सीरीज के अन्य मुकाबलों के सेंटर पर वैक्सीनेशन के बिना किसी को प्रवेश नहीं मिल रहा है।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर. भारत और न्यूजीलैंड टेस्ट मैच (India-New Zealand) के लिये टिकटों की दरें तय होने के बाद अब दर्शकों को इन नियमों का पालन करना होगा। अन्यथा स्टेडियम में प्रवेश नहीं मिलेगा। कानपुर शहर में कोविड पर नियंत्रण होने के चलते दर्शकों को काफी राहत मिली है। सिर्फ मास्क लगाकर 75 प्रतिशत दर्शकों को मैच देखने की अनुमति मिली है, जबकि सीरीज के अन्य मुकाबलों के सेंटर पर वैक्सीनेशन के बिना किसी को प्रवेश नहीं मिल रहा है। फिर भी यदि मैच के दर्शकों को बुखार हुआ तो वह स्टेडियम में प्रवेश नहीं कर सकेगा। यूपीसीए द्वारा मैच के लिये सभी इंतजाम किए गए हैं।

अन्य सेंटरों की अपेक्षा कानपुर में दर्शकों को राहत

बीसीसीआइ ने कोविड से बचाव के लिये दोनों टीमों के खिलाडिय़ों की पूरी व्यवस्था कर रखी है। कल यहां पहुंची भारतीय टीम के 11 खिलाडिय़ों को तीन दिन के लिये क्वारंटाइन भी किया गया है। जबकि टीम के अन्य खिलाड़ी सहित न्यूजीलैंड टीम 22 नवंबर को कानपुर आएगी। बीसीसीआइ ने इस सीरीज के लिये सभी राज्य सरकारों के निर्देशों का अनुपालन करते हुए मैच आयोजित करने का फैसला किया है। जबकि टी-20 सीरीज में तीनों सेंटरों में जयपुर और रांची में सिर्फ पचास प्रतिशत दर्शकों को ही अनुमति मिली है वहीं कोलकाता में 75 प्रतिशत है। मगर इन तीनों सेंटर में वैक्सीनेशन होना अनिवार्य है।

यूपीसीए के वेन्यू डायरेक्टर ने बताया

वैक्सीनेशन की दोनों डोज नहीं लगी होने पर आरटीपीसीआर टेस्ट करा के ले जाना है। मगर कानपुर में दर्शकों को काफी राहत मिली है। हालांकि यह शासन से जो भी निर्देश आए हैं जिनका पालन सख्ती के साथ होगा। यूपीसीए के वेन्यू डायरेक्टर डा.संजय कपूर ने बताया कि मैच के दौरान प्रत्येक इंट्री प्वाइंट पर थर्मल स्कैनर रहेगा जो प्रत्येक दर्शक का तापमान चेक करेगा। बुखार के लक्षण पाये जाने वाले दर्शक को बाहर रखा जायेगा। वहीं कोविड डेस्क और सैनिटाइजर भी रखा जायेगा। दर्शकों के लिये मास्क अनिवार्य है। इसके अलावा पुलिस विभाग जिन सामग्री को अंदर आने से रोकने की जानकारी देगा, उसका भी सख्ती से पालन कराया जायेगा।













Uttar Pradesh >> Kanpur News in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here